यह जापानी कंपनी किस तरह भारत में शेयर्ड मोबिलिटी सर्विसेज के स्वरूप में ला रही है बदलाव - ORIX ऑटो इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड भारत में लीज़ पर कार देने वाली सबसे बड़ी कंपनी, भारत की सबसे बड़ी B2B कार रेंटल कंपनी तथा कर्मचारी परिवहन के क्षेत्र में दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है
January 13, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

यह जापानी कंपनी किस तरह भारत में शेयर्ड मोबिलिटी सर्विसेज के स्वरूप में ला रही है बदलाव
- ORIX ऑटो इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड भारत में लीज़ पर कार देने वाली सबसे बड़ी कंपनी, भारत की सबसे बड़ी B2B कार रेंटल कंपनी तथा कर्मचारी परिवहन के क्षेत्र में दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है
- वर्तमान में ORIX ऑटो इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड भारत के 58 से अधिक शहरों में अपनी सेवाएं दे रहा है
राष्ट्रीय, 7 जनवरी, 2020 : हम हमेशा से सुनते आए हैं कि बदलाव एकमात्र ऐसी चीज़ है, जो अनवरत जारी रहती है। और जब हम भारत में शेयर्ड मोबिलिटी इंडस्ट्री की बात करते हैं तो यह बात शत-प्रतिशत सही साबित होती है, जहां जमीनी परिवहन क्षेत्र में पिछले 5 वर्षों के दौरान होने वाले बड़े बदलाव संयुक्त रूप से पिछले दो दशकों में प्रौद्योगिकी में हुई नई खोजों से आगे निकल गए हैं। उपयोग की प्रवृत्ति के साथ-साथ स्वामित्व के मॉडल में परिवर्तन ने बड़े पैमाने पर हुए इस बदलाव में योगदान दिया है तथा पर्यावरण से संबंधित विभिन्न समस्याओं की वजह से इसमें और तेज़ी आई है, जिसमें प्रदूषण का लगातार बढ़ता स्तर और भारत में परिवहन की बढ़ती जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्यावरण के अनुकूल स्थायी समाधानों की तलाश शामिल हैं।
महानगरों में ट्रैफ़िक की बढ़ती समस्या, परिवहन में लगने वाले अत्यधिक समय, सड़कों पर लोगों की भारी भीड़ और प्रदूषण की वजह से उपभोक्ताओं के उपयोग पैटर्न में तेज़ी से बदलाव हो रहा है, जो अब संपत्ति के स्वामित्व के बजाय अनुभव पर केंद्रित है। इसके परिणामस्वरूप सेल्फ ड्राइव कार रेंटल, कार पूलिंग, कारों के लिए सब्सक्रिप्शन तथा कम अवधि के लिए कारों को लीज़ पर लेने जैसे पर्यावरण-अनुकूल शेयर्ड मोबिलिटी के ढेर सारे विकल्प उपलब्ध हुए हैं।
जापानी वित्तीय सेवा समूह ORIX से संबद्ध कंपनी, ORIX ऑटो इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड इसी क्षेत्र में पिछले 25 सालों से भारत में अपनी पकड़ मजबूत कर रहा है। जापान में ऑटोमोबाइल लीज़िंग इंडस्ट्री में ORIX की हिस्सेदारी सबसे अधिक है और ORIX ऑटो इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड भारत की एकमात्र ऐसी कंपनी है, जो भारत के सभी प्रमुख टियर I और टियर II शहरों में परिवहन से संबंधित हर तरह की सेवाओं को एक छत के नीचे उपलब्ध कराती है, जिसमें कारों को लीज़ पर देना, वाहन चालक सहित कारें उपलब्ध कराना, कर्मचारियों के लिए परिवहन समाधान, खुद से चलाने के लिए किराए पर कार लेना, फ्लीट मैनेजमेंट से जुड़े समाधान, वाहनों के लिए सब्सक्रिप्शन के साथ-साथ टेस्ट ड्राइव का अनुभव और इसी तरह की अन्य सेवाएं शामिल हैं।
ORIX ऑटो इन्फ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड ने वर्ष 2020 में भारत में अपने 25 साल पूरे किए हैं, और यह कंपनी धीरे-धीरे भारत की सबसे बड़ी B2B कार रेंटल प्रदाता, भारत में लीज़ पर कार देने वाली सबसे बड़ी कंपनी तथा कर्मचारी परिवहन के क्षेत्र में भारत की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी बनकर देश में शेयर्ड मोबिलिटी के क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनियों में शामिल हो गई है।
वर्तमान में ORIX ऑटो इन्फ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड के ग्राहकों का आधार काफी विस्तृत हो गया है, जिसमें भारत के एक हज़ार से अधिक बड़े कॉर्पोरेट घराने शामिल हैं। कंपनी अपने सभी ग्राहकों को एक साथ बेहतरीन सेवाएं उपलब्ध करा रही है। भारत में कॉर्पोरेट जगत की प्रमुख कंपनियों को अपनी सेवाएं उपलब्ध कराने के अलावा, ORIX ऑटो इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड ने रिटेल स्पेस में भी कदम रखा है जहाँ वह दिल्ली, मुंबई, पुणे, बैंगलोर, गोवा, हैदराबाद, कोलकाता, जयपुर सहित 17 से ज्यादा शहरों में मौजूद अपने ब्रांड 'मायचॉइस सेल्फ कार ड्राइव' के तहत सेल्फ ड्राइव कार रेंटल सेवाएं प्रदान करता है।
ORIX ऑटो इन्फ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड के एमडी एवं सीईओ श्री संदीप गंभीर कहते हैं, “पिछले कुछ वर्षों में, भारत ORIX ऑटो इन्फ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड के लिए सबसे तेजी से बढ़ते बाजारों में से एक रहा है और ORIX ऑटो इंफ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज लिमिटेड इसे अपने विकास के लिए दुनिया भर के शीर्ष बाजारों में से एक के रूप में देखता है। इसका कारण यहां की लगातार विकसित हो रही अर्थव्यवस्था, स्थिर राजनीतिक माहौल, निवेशकों के अनुकूल नियामक ढांचा, घरेलू स्तर पर बड़ी मांग तथा बढ़ती शहरी आबादी के साथ-साथ प्रौद्योगिकी में प्रगति है। भारत में मोबिलिटी के क्षेत्र में स्टार्ट-अप की प्रवृत्ति बढ़ी है, जिसमें बड़े पैमाने पर तकनीकी इनोवेशन किए गए हैं और ढेरों समाधान उपलब्ध कराए गए हैं। प्रौद्योगिकी में हुए इस प्रकार के बड़े बदलावों की वजह से शेयर्ड मोबिलिटी की बुनियादी संरचना काफी बेहतर हुई है, जो लोगों के लिए बेहद आसान और किफायती है।”