प्राइवेट अस्पतालों की लापरवाही के कारण कलाबाई गुप्ता की मौत*
April 10, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

 

*प्राइवेट अस्पतालों की लापरवाही के कारण कलाबाई गुप्ता की मौत*

*कई अस्पतालों में घूमने पर भी नही किया एडमिट*

प्राइवेट अस्पतालों की लापरवाही इस चरम पर है इसी कारण एक महिला को सही समय पर इलाज नहीं मिलने से  उसकी मौत हो गई
।  वाकया है 28 श्रद्धानंद मार्ग छावनी की रहने वाली कलाबाई गुप्ता को आज सुबह असहज स्थिति लगी दोपहर में लगभग 4:30 बजे उनके परिजन उन्हें सबसे पहले सीएचएल अस्पताल लेकर पहुंचे जहां चेस्ट का एक्सरे किया गया लेकिन एक्स-रे के पश्चात उन्हें कहा गया कि कि आप उन्हें सुयश अस्पताल लेकर जाए वहां आधे घंटे प्रयास करने के बाद भी कलाबाई को एडमिट यह कहकर नहीं किया कि आईसीयू में जगह नहीं है परिजन वहां से कलाबाई को लेकर विशेष अस्पताल पहुंचे पालदा क्षेत्र में जो अस्पताल है वहां पहुंचे लेकिन वहां यह कहा गया कि ग्रीन जोन में या अस्पताल है आप येलो जोन में लेकर जाएं जिसके तहत एमआरटीपी अस्पताल ले जाने के लिए कहा गया वहां कहा गया कि यहां केवल को रोना के पेशेंट ही एडमिट किए जा रहे हैं आप एमवाय अस्पताल लेकर जाएं अस्पताल के चेस्ट जून में लेकर पहुंचे वहां भी भीड़ होने के कारण और कोरोना के पेशेंट से ज्यादा होने के कारण वहां से गोकुलदास लेकर पहुंचे परिजन तब तक रात का लगभग 9:15 बज चुका था लेकिन गोकुलदास पहुंचते ही कलाबाई अपनी सांसे छोड़ चुकी थी। राहुल गुप्ता ने बताया कि इस बीच उन्होंने शहर के कई बड़े अधिकारियों को फोन लगाया लेकिन कहीं से भी मदद भी प्राप्त नहीं हुई और फोन भी रिसीव नहीं किया गए।

संपर्क 
98270 14162 
पीयूष गुप्ता