पश्चिम रेलवे के डॉ अम्बेडकर नगर के प्लेटफार्म नंबर एक को जल्द तैयार करें
January 13, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

इंदौर l पश्चिम रेलवे का सेक्शन रतलाम से खंडवा, अकोला सेक्शन जहाँ पहले मीटर गेज की गाड़ी चलती थी l उस सेक्शन को ब्रॉडगेज में बदलने के लिए 2008 व 2009 के बजट में मंजूरी हुई थी , और उस समय केंद्रीय मंत्री श्री लालू प्रसाद यादव थे , जिन्होंने इसकी मंजूरी दी थी l 20 वर्ष हो चुके लेकिन यह काम आज भी अधूरा पड़ा है l रतलाम से खंडवा की दूरी करीब 280 किलोमीटर है l जिस समय यही योजना मंजूर हुई थी , इसकी लागत लगभग 604 करोड़ रुपए थी ,आज इसकी लागत कई गुना बढ़ गई है l एक तरफ रेलवे प्रशासन अपने घाटे को कम करने के लिए योजनाएं बना रहा है l लेकिन दूसरी तरफ उसको यह घाटा नहीं दिखाई दे रहा है l 
 (1) डॉक्टर अंबेडकर नगर महू से ओमकारेश्वर तक मीटर गेज की गाड़ी चल रही है l वह 3 फेरे जाना और   3फेरे आना करती है l इस सेक्शन को जल्द से जल्द बंद कर देना चाहिए ,क्योंकि इसमें डीजल का खर्च भी नहीं निकल पाता l
 (2)  इंदौर से  अंबेडकरनगर के बीच मेमो गाड़ी या डेमो का एक रेक और दिया जाए , जिससे नौकरी पेशl, विद्यार्थी, मजदूरी करने वाले अप डाउनर्स अपने काम पर जाने की सुविधा मिल सकl
(3) जबकि डॉ अंबेडकरनगर इंदौर के बीच इलेक्ट्रिकल लाइन डाले हुए लगभग 2 वर्ष हो चुके हैं उसका भी उपयोग हो सके l 
 (4) डॉअंबेडकर नगर महू रेलवे स्टेशन पर एक नंबर प्लेटफार्म को मीटर गेज से ब्रॉड गेज लाइन में परिवर्तन किया जाए l जिससे महू स्टेशन से और भी गाड़ियां चलाई जा सके l जिससे स्टेशन इंदौर स्टेशन की समस्या का समाधान हो सकेl डॉक्टर अंबेडकर नगर महू स्टेशन पर कार्य बहुत धीमी गति से चल रहा है l उस कार्य को जल्द से जल्द पूरा करने की कार्यवाही करना चाहिएl इंदौर से रतलाम के बीच 2 घंटे तक कोई ट्रेन नहीं रहतीl एक ट्रेन का फेरा बढ़ाया जाए, जिससे यात्रियों को सुविधा हो l
     इंदौर महू रेल यात्री संघ के संयोजक अनिल डोली ने बताया कि यदि अतिरिक्त ट्रेन चलाई जाए , तो रेलवे का घाटा भी कम हो सकता है ,और यात्रियों को सुविधा भी मिल सकती है l काफी समय से डेली अप डाउन अर्थ मांग करते आ रहे हैं मेमू ट्रेन की जिससे चलाया जाना चाहिएl