लखनऊ के बाद प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में भी सीएए के खिलाफ महिलाएं मैदान में*
January 24, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला 8640866666

*लखनऊ के बाद प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में भी सीएए के खिलाफ महिलाएं मैदान में*

*वाराणसी में सीएए के विरोध में महिलाओं का प्रर्दशन, पुलिस ने खदेड़ा- कई गिरफ्तार*

*बेनियाबाग छावनी में तब्दील-पुलिस के साथ धक्का-मुक्की कर महिलाएं भाग निकलीं*

          लखनऊ (विजय आनंद वर्मा)।प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आज दोपहर सीएए के विरोध में कुछ महिलाएं हाथ में तिरंगा लेकर बेनियाबाग के मैदान में प्रर्दशन करने पहुंची तभी पुलिस बल एवं अधिकारियों ने वहां पहुंच कर हल्का बल प्रयोग कर महिलाओं को वहां से खदेड़ दिया, वहीं  कई महिलाओं को हिरासत में लेकर पुलिस की गाड़ी में ले जाए जाने की भी खबर है। महिलाओं के साथ पहुंचे पांच से छह पुरुषों को गिरफ्तार कर लिया गया।
     जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा ने कहा है कि बिना परमीशन के किसी को प्रर्दशन करने दिया जाएगा और माहौल बिगाड़ने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होने यह भी कहा कि पुलिस पर पत्थर चलाने बालों को बख्शा नहीं जाएगा। बताया जा रहा है कि कांग्रेसी नेत्री सृष्टि कश्यप के साथ आज दोपहर कुछ महिलाएं हाथ में तिरंगा लेकर बेनियाबाग मैदान पहुंच गईं और सीएए के विरोध में नारेबाजी शुरू कर दी। 
         महिलाओं ने इससे पूर्व गांधी चौराहे पर भी प्रर्दशन किया। प्रदर्शन की सूचना मिलते ही डीएम एवं एसएसपी प्रभाकर चौधरी 10 थानों की पुलिस के साथ बेनियाबाग मैदान जा पहुंचे और प्रर्दशन कर रहे लोगों को वहां से खदेड़ा। बताया जा रहा है कि अफरा-तफरी के माहौल में प्रर्दशन कर रहीं महिलाओं को जब पुलिस ने पकड़ने की कोशिश की तो वे पुलिसकर्मियों को धक्का देकर भागने में सफल रहीं जबकि वहां मौजूद आधा दर्जन युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। प्रदेश में अब तक 1200 से अधिक लोगों पर धारा 144 का उल्लघंन करने का केस दर्ज किया गया है जिसमेें प्रयागराज में 300 एवं इटावा में 200 महिलाओं के विरुद्ध भी केस दर्ज किया गया है।