जल संरचनाओं की निगरानी के लिये बना जलमित्र मोबाइल एप* *कमिश्नचर श्री आकाश त्रिपाठी की अध्यक्षता में झील एवं भू-जल संरक्षण सोसाइटी की बैठक सम्पन्न*
November 4, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

 

 

*जल संरचनाओं की निगरानी के लिये बना जलमित्र मोबाइल एप*
*कमिश्नचर श्री आकाश त्रिपाठी की अध्यक्षता में झील एवं भू-जल संरक्षण सोसाइटी की बैठक सम्पन्न*
इन्दौर 4 नवंबर,2019
 संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी की अध्यक्षता में आज नव गठित झील एवं भू-जल संरक्षण सोसाइटी इंदौर की बैठक संपन्न हुई। बैठक में जल मित्र मोबाईल ऐप का लोकार्पण किया गया। इस ऐप के ज़रिए इंदौर में स्थित झील और तालाबों की ऑनलाइन निगरानी संभव हो सकेगी। बैठक में कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव, आयुक्त नगर निगम श्री आशीष सिंह, इंदौर विकास प्राधिकरण के सीईओ श्री विवेक श्रोत्रिय, सोसाइटी की सचिव तथा उपायुक्त राजस्व इंदौर श्रीमती सपना सौलंकी, अपर कलेक्टर श्री पवन जैन तथा अशासकीय सदस्य श्री भालू मोंड़े, श्री किशोर कोड़वानी, श्री राकेश जैन और श्री पुरुषोत्तम दास पसारी सहित अन्य शासकीय सदस्य उपस्थित थे।
  संभागायुक्त श्री त्रिपाठी ने बताया कि जल मित्र मोबाइल ऐप फ़िलहाल एंड्राइड पर उपलब्ध है। शहर में स्थित तालाबों की सम्पूर्ण जानकारी इसमें उपलब्ध है। सभी तालाबों की जियो फ़ेंसिंग की जाएगी और इसमें तालाबों के रिचार्ज पॉइंट भी चिन्हित होंगे। इसका उद्देश्य इंदौर शहर की जल संरचनाओं को संरक्षित करना है। इस एप्लिकेशन के द्वारा जल संरचनाओं का सभी तरह का रिकॉर्ड संधारित किया जाएगा। आम जन भी इसे देख सकेंगे और इसके ज़रिये तालाबों में यदि अतिक्रमण और अन्य तरह की समस्याएं आती है तो इसे चिन्हित भी कर सकेंगे। 
   बैठक में विभिन्न तालाबों के सीमांकन की जानकारी देते हुए कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव ने बताया कि इंदौर के 22 तालाबों में से 12 का सीमांकन हो चुका है। सभी तालाबों में स्थायी प्रकृति के मुनारे लगाए जाएंगे। बैठक में सदस्य श्री भालू मोंडे और श्री किशोर कोड़वानी ने सिरपुर तालाब में अतिक्रमण के संबंध में ध्यान आकृष्ट कराया। संभागायुक्त श्री त्रिपाठी ने कहा कि सिरपुर तालाब में अतिक्रमण को सख़्ती से रोका जाएगा और इसके लिए जिला प्रशासन ठोस कार्यवाही करेगा।