इंदौर में आयोजित किया गया स्टडी इन गुजरात का रोड शॉ
January 22, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

इंदौर में आयोजित किया गया स्टडी इन गुजरात का रोड शॉ

~ गुजरात सरकार के माननीय कृषि, पंचायत, पर्यावरण राज्य मंत्री श्री जयद्रथसिंह परमार  के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने 15  युनिवर्सिटी के प्रमुख शिक्षाविदों से मुलाकात की

इंदौर, 21 जनवरी, 2020: गुजरात को एजुकेशन हब के रूप में प्रमोट करने के अपने प्रयासों को बढाते हुए गुजरात सरकार के शिक्षा विभाग ने अपने स्टडी इन गुजरात कैंपेन  के तहत आज यहाँ एक रोड शॉ आयोजित किया ।

राज्य सरकार ने अन्य राज्यों और देशों के छात्रों को गुजरात में आमंत्रित करने के उद्देश्य से स्टडी इन गुजरात अभियान की शुरूआत की है।

गुजरात सरकार के माननीय कृषि, पंचायत, पर्यावरण राज्य मंत्री श्री जयद्रथसिंह परमार ने इस रोड शॉ की मेजबानी की। मीडिया से बात करते हुए श्री जयद्रथसिंह परमार ने कहा, “इससे पहले 1990 में गुजरात के छात्रों को उच्च शिक्षा के लिये अन्य राज्यों में जाना पडता था, लेकिन अब हमने ऐसी शिक्षा संस्थाएँ विकसित की है जो न केवल हमारे छात्रों को बल्कि अन्य राज्यों के छात्रों को भी समायोजित कर सकती हैं। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए, हमने मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी के मार्गदर्शन में, गुजरात को भारत का एजुकेशन हब के रूप में बढ़ावा देने की पहल की है।”

गुजरात में सेक्टोरल युनिवर्सिटीज़ की संख्या सबसे अधिक है जो इस बात का प्रमाण है कि राज्य ने सामान्य और विशिष्ट कॉलेजों को एक साथ विकसित किया है।

गुजरात के लगातार विकास की एक महत्वपूर्ण वजह है राज्य का सुरक्षित वातावरण और कानून एवं व्यवस्था की एक समर्पित सिस्टम। भारत और विदेशों में से निवेश आकर्षित करने के अलावा, राज्य के शिक्षा क्षेत्र के प्रयासों के परिणामस्वरूप भारत के विभिन्न विस्तारों में से बड़ी संख्या में विद्यार्थी शिक्षा पाने के लिये गुजरात आते हैं।