बड़ी संख्‍या में दिया सामान का ऑर्डर, फिर लेने से किया मना*            
April 10, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

*बड़ी संख्‍या में दिया सामान का ऑर्डर, फिर लेने से किया मना*                                             

इंदौर। लॉकडाउन के दौरान लोगों को रोजमर्रा की जरूरत का सामान उपलब्ध कराने की इंदौर नगर निगम की कोशिशों को झटका लगा है। शुरुआत में करीब चार हजार लोगों ने किराना सामान का ऑर्डर दिया, लेकिन जब निगमकर्मी सामान देने पहुंचे तो अधिकांश लोगों ने यह कहकर लेने से इन्कार कर दिया कि उन्हें लगा था कि यह मुफ्त में दिया जाएगा।

*बड़ी संख्‍या में लोगों ने दिए सामान ऑर्डर* 

दरअसल, नगर निगम ने जरूरतमंदों के लिए यह व्यवस्था की थी कि लोग निगमकर्मियों को किराना सामान का ऑर्डर दे सकते हैं। यह सुविधा शुरू होते ही बड़ी संख्या में लोगों ने ऑर्डर दिए, लेकिन जब किराना दुकान से उनके घर सामान पहुंचा तो लोगों ने बहाने बनाकर सामान लेने से मना कर दिया।

*मानव श्रम, समय के साथ व्यवसायी को भी हो रहा नुकसान*

 अधिकारियों का कहना है कि इससे मानव श्रम, समय के साथ व्यवसायी को भी नुकसान हो रहा है। उतना समय यदि व्यवसायी, दूसरे सामान को पैक कर उसकी डिलिवरी में लगाते तो हजारों लोगों तक उनकी जरूरत की सामग्री पहुंच जाती। हद तो यह है कि कुछ लोग यह कहते हुए किराना सामान लेने से मना कर रहे हैं कि हमें लगा निगम यह सामान मुफ्त में देगा, इसीलिए ऑर्डर दिया। हमें क्या पता था रुपये देने पड़ेंगे।