अंतरराष्ट्रीय गिरोह का पर्दाफाश किया एसटीएफ ने मैरिज ब्यूरो की आड़ में लड़कियों की खरीद-फरोख्त करते थे
October 17, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

इंदौर। इंदौर में STF ने मैरिज ब्यूरो की आड़ में लडकियों की खरीद फरोख्त कराने वाले एक अन्तर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश किया है।

एसपी एसटीएफ पद्मविलोचन शुक्ल ने बताया कि इस मामले में थाना वासना जिला अहमदाबाद गुजरात में नामजद आरोपी नीलेश वाटकिया पिता रामलाल वाटकिया निवासी म.न.0 1271 न्यू गौरी नगर इन्दौर हाल नगीन नगर इन्दौर एवं रितू राठौर पिता किशोरीलाल राठौर आयु 25 साल मूल निवासी ग्राम रूस्तमपुर तहसील पंधाना जिला खरगौन एवं दलाली करने वाले विनायक गावडे पिता हीरालाल गावडे उम्र 40 साल निवासी म.न. 219 गांधीनगर नैनोद एवं संगीता पति सुखदेव वाकोडे उम्र 38 साल निवासी म.न. 42 पंचशील नगर एफ-42 एरोड्रम रोड इंदौर, अनिल जैन पिता केशवलाल जैन उम्र 54 साल निवासी म.न. 194 अंजनी नगर मालवा हास्पिटल के सामने इन्दौर एवं विशाल सोनी उर्फ अखिलेश सोनी पिता विष्णुप्रसाद सोनी उम्र 41 साल निवासी म.न. 501 कालानी नगर इन्दौर को हिरासत में लिया जाकर राजस्थान एवं गुजरात पुलिस को सुपुर्द किया गया है।

उन्होंने बताया कि एसटीएफ इकाई के सउनि अमित दीक्षित को सूचना प्राप्त हुई कि थाना वासना जिला अहमदाबाद में गौरी नगर इन्दौर निवासी नीलेश वाटकिया और पूजा राठौर नामक लडकी द्वारा शादी कर भागने का प्रकरण पंजीबद्व है। इस पर नीलेश वाटकिया को हिरासत में लेकर पूछताछं करने पर उसने बताया कि रितू राठौर नामक एक तीन बच्चों की महिला को पूजा बनाकर अहमदाबाद में शादी कराई थी जहां से तीन बाद पूजा नीलेश के साथ भाग कर आ गई थी। इस काम के लिए रितु उर्फ पूजा और नीलेश को रूपयें 80000 मिले थे। नीलेश और पूजा से पूछतांछ करने पर उनके द्वारा बताया गया कि अनिल जैन और विशाल सोनी उर्फ अखिलेश नामक व्यक्ति जो मैरिज ब्यूरों की आड़ में यह काम करते है, के द्वारा विनायक गावडे नामक व्यक्ति से मिलवाया था और उन्ही के माध्यम से अहमदाबाद में 1लाख 80000 में पूजा का सौदा कराया गया था।

पूजा और नीलेश द्वारा रूपयें 80000 में से रूपयें 20000 विनायक गावडे को और रूपयें 20000 संगीता नामक महिला को दिये गये थे जिन्हे भी हिरासत में लिया गया है।

विनायक और संगीता को हिरासत में लेकर पूछतांछ करने पर उनके द्वारा बताया गया कि विशाल सोनी उर्फ अखिलेश सोनी निवासी कालानी नगर और अनिल जैन निवासी अंजनी नगर द्वारा जैन विवाह संस्थान की आड में लडकियों की बडै पैमाने पर शादी के नाम पर खरीद फरोख्त करते है।

एसटीएफ टीम द्वारा अनिल जैन और विशाल सोनी उर्फ अखिलेश सोनी को हिरासत में लेकर पूछतांछ करने पर उनके द्वारा बताया कि रितू उर्फ पूजा को अहमदाबाद के बाद ब्यावरा में एक गुप्ता परिवार के डॉ लडके को रूपयें 500000 में सौदा किया था जहां से वह 10 दिन में रूपयें 150000 लेकर भाग आई थी। इसके बाद देवास के एक परिवार में भी रितू को रूपयें 300000 में बेचा गया था जहां से पूजा 3 दिन बाद 70000 लेकर फरार हो गई थी।

अनिल जैन और विशाल सोनी उर्फ अखिलेश सोनी द्वारा पूर्व में प्रतापगढ राजस्थान में भावेश पिता रविन्द्र निवासी प्रतापगढ से एक रोशनी नामक लडकी की शादी रूपयें 350000 में कराई थी जिसमें रोशनी पैसे लेकर फरार हो गई थी जिस पर थाना कोतवाली प्रतापगढ में रोशनी अनिल जैन विशाल जैन सोनाली एवं अन्य के विरूद्व प्रकरण पंजीबद्व कर अनिल जैन और विशाल की तलाश की जा रही थी।

श्री शुक्ला ने बताया कि इन्दौर में कई लोग मैरिज ब्यूरों की आड में सीमावर्ती राज्यों के ग्रामीण क्षेत्रों में लडकियों को शादी के नाम पर बेचने का गौरखधंधा कर रहे है जिसके लिए व्हॉट्एस एवं अन्य सोशल मीडिया को माध्यम बनाया गया है। ये लोग शादी के नाम पर बडी राशि वसूलते है और लडकियों को वहां से फरार करा देते है। ऐसे लोगो की पतारसी की जा रही है एवं उनके विरूद्व कठोर कार्यवाही की जावेगी।

प्रकरण के पर्दाफाश करने में एसटीएफ इकाई इन्दौर के उप निरीक्षक श्यामकिशोर त्रिपाठी सउनि अमित दीक्षित प्र.आर. झनकलाल पटेल आरक्षक विराट यादव, विवेक द्विवेदी, राहुल रमनवाल, आशीष मिश्रा, विनोद यादव, सुभाष कोठे और देवेन्द्र की प्रमुख भूमिका रही है।