आरोपी के कब्जें से 14 नग सोने के कंगन , 4 नग चेन सोने की , 11 नग सोने की अंगुठी, 1 मंगल सूत्र सोने का, तीन लाकेट सोने के, दो नग कान के टाप्स नगदी 67630 रूपये तथा मोबाइल जप्त*
October 17, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

*• अन्नपूर्णा में हुई प्रेमा झमटानी के अंधे कत्ल का पर्दाफाश*
*• मुम्बई (बांद्रा) से आरोपी दीपेश गंगवानी पकडा गया*  
*• आरोपी से लूटा गये जेवरात व नगदी कुल मश्रुका 8 लाख का जप्त*'
*• आरोपी के कब्जें से 14 नग सोने के कंगन , 4 नग चेन सोने की , 11 नग सोने की अंगुठी, 1 मंगल सूत्र सोने का, तीन लाकेट सोने के, दो नग कान के टाप्स नगदी 67630 रूपये तथा मोबाइल जप्त*

इन्दौर दिनांक 17 अक्टुबर 2019- श्री वरूण कपूर, अतिरिक्त़ पुलिस महानिदेशक, इन्दौर जोन व्दारा सम्पूर्ण जोन में चलाये जा रहे हत्या के प्रकरणों को सुलझाने की मूहीम ऑपरेशन उजागर में एक और महत्वपूर्ण मिली है। घटना दिनांक 12/10/2019 को थाना अन्नपुर्णा मेंघटित जघन्य़ हत्याकांड को श्री वरूण कपूर, अतिरिक्त़ पुलिस महानिदेशक, इन्दौर जोन व्दारा गठित टीम ने सफलता-पूर्वक सुलझा लिया है और इस घटना में लिप्त़ आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 12.10.19 की रात करीब 12 बजे थाना अन्नपूर्णा में फोन से सूचना मिली थी कि क्रांति कृपलानी नगर में प्रेमा झमटानी की लाश उनके कमरे में पडी है। उक्त सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इन्दौर शहर श्रीमती रूचिवर्धन मिश्र व पुलिस अधीक्षक पश्चिम श्री अवधेश कुमार गोस्वामी द्वारा तत्काल घटना स्थल के आसपास के इलाके में सर्चिंग की कार्यवाही कराई गई। व तीन घंटे से कम समय मे ही संदेही दीपेश गंगवानी की जानकारी प्राप्त कर ली गई। व घटना की पतारसी के लिए अति पुलिस अधीक्षक पश्चिम जोन 2 श्री मनीष खत्री, नगर पुलिस अधीक्षक अन्नपुर्णा श्री पुनीत गहलोद आईपीएस, थाना प्रभारी अन्नपुर्णा श्री सतीश द्विवेदी, थाना प्रभारी राजेंद्र नगर श्री सुनील शर्मा को प्रकरण की पतारसी के आवश्यक निर्देश दियें। घटना स्थल पर एफएसएल प्रभारी श्री बीएल मंडलोई ने भी निरीक्षण किया। जांच मे हत्या होने से प्रकरण मे अप. क्र. 435/19 धारा 302,,460,394,201 भादवि का कायम कियाग़या।
 श्रीमान पुलिस अधीक्षक इंदौर (पश्चिम) ,अति. पुलिस अधीक्षक जोन-2 तथा नगर पुलिस अधीक्षक अन्नपूर्णा द्वारा लगातार प्रकरण की मानीटरिंग कर थाना प्रभारी अन्नपूर्णा सतीश द्विवेदी, थाना प्रभारी राजेन्द्र नगर सुनील शर्मा, थाना प्रभारी द्वारिकापुरी श्री विजय सिसोदिया तथा स्टाफ की एक टीम बनाकर रात दिन इसी कार्य में लगाया गया। इसी दौरान पुलिस टीम द्वारा तथा 3 घण्टे के अंदर ही आरोपी की पहचान कर ली गईए जिसमें  पता चला कि मृतिका के घर के पास ही रहने वाला दीपेश पिता ताराचन्द्र गंगवानी उम्र 24 साल निवासी क्रांति कृपलानी नगर इंदौर घटना के बाद से घर से फरार है। अतः इसके अलग अलग प्रदेशो में टीम भेजी गयी जिनमें से एक टीम महाराष्ट्र भेजी गयी। जिन्होने नासिक, कोल्हापुर तथा मुम्बई के विभिन्न क्षेत्रो में वेष बदलकर सूझबूझ से पतारसी में जुट गये। जो अन्ततः दिनांक 16.10.19 को बान्द्रा (मुम्बई) स्टेशन के बाहर आरोपी दीपेश को पकड़ने मे उक्त टीम को सफलता मिली। जिसे पकड़कर थाना लाया गया जो पहले तो घटना घटित करने से इंकार किया किन्तु जब पुलिस ने विस्तार में पुछताछ शुरू की तो वह टूट गया तथा अपना गुनाह कबूल करते हुए बताया कि वह इस समय काफीकर्जे में हो गया था तथा 12 नवम्बर को उसकी शादी भी थी। किन्तु जेब में फूटी कौड़ी नही थी किस्त न भरने से मोटर सायकल भी खिच गयी थी जो रातो रात पैसो की कमी को दूर करने के लिये घर के सामने अकेले रहनेवाली प्रेमा झमटानी की करीब 10 दिन से रैकी चालू किया मृतिका सुबह 5 बजे उठकर जाती थी तथा तैयार होकर सत्संग में जाती थी। आरोपी यह समय उपयुक्त पाकर मृतिका प्रेमा के घर दिनांक 12.10.19 सुबह करीब 04.30 बजे घुस गया था तथा मृतिका के मुह में कपड़ा लगाकर बेहोश कर दिया फिर मुह में टेप लगा दिया फिर भी जिंदा होने से गला घोटकर हत्या कर दी तथा उसके हाथ के कंगन तथा कान के टाप्स उतारकर रख लिये। फिर घर का पुरा सामान अलमारी, बैड आदि खोलकर 14 नग सोने के कंगन , 4 नग चेन सोने की , 11 नग सोने की अंगुठी , 1 मंगल सूत्र सोने का , तीन लाकेट सोने के , दो नग कान के टाप्स नगदी 67630 रूपये तथा मोबाइल लूटकर अपने घर के पलंग में छुपा दिया जो पुलिस द्वारा उक्त सम्पूर्ण लूटी हुई जेवरात 8 लाख तथा नगदी 67630 रूपये मोबाइल आदि जप्त कर किये गये है। श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय के द्वारा तत्काल आरोपी का पता लगाकर गिरफ्तार करनें वाली पुलिस टीम को 20000/- रूपये का इनाम से पुरूस्कृत करने की घोषणा की गई है।
इस सम्पूर्ण कार्यवाही में नगर पुलिस अधीक्षक अन्नपुर्णा श्री पुनीत गहलोद आईपीएस, निरी. सतीश द्विवेदी, निरी. सुनील शर्मा, निरी. विजय सिसोदिया, उप निरी तोसिफ अली,  उप निरी नीलमणि ठाकुर , उप निरी अंकित शर्मा , उप निरी. अर्जून सिंह, प्रआर मंगल सिंह, प्रआर. ब्रजभूषण , प्रआर उदयभान , आर जोगेश , आर अभिषेक पंवार , आर सुनील, आर धर्मेन्द्र , म.आर. सरीता , आर विपिन , आर कृष्णचन्द्र , आर. विनोद शर्मा ,  आर तन्मय आर  शशांक  आरक्षक सुदीप की  सराहनिय भूमिका रही है ।