*(मुख्यमंत्री का ध्यान आकर्षित करने के लिए)*    *दो जून रोटी के लिए 12 घंटे के लिए रिक्क्षा चालक बैठे भूख हड़ताल पर*
April 16, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

 

   *(मुख्यमंत्री का ध्यान आकर्षित करने के लिए)*
   *दो जून रोटी के लिए 12 घंटे के लिए रिक्क्षा चालक बैठे भूख हड़ताल पर*

इन्दौर /  कोरोना वायरस जैसी महामारी को लेकर प्रदेश व देश में जहां लाकडाउन लगा है वहीं आम मजदूरी से लेकर बड़े-बड़े कल कारखानों के कामकाज पूरी तरह बंद हो चुके हैं वही श्रम आन्दोलन से जुड़े इन्दौर के ऑटो रिक्शा चालक भी लॉक डाउन की चपेट में आकर भूखों मरने की स्थिति में पहुंच गए हैं, इसीलिए उन्होंने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का ध्यान आकर्षित करने के लिए अपने अपने घरों की छत पर सुबह 8 बजे से बैठकर 12 घंटे की भूख हड़ताल शुरू की है!
 यहां जारी आप भी एक प्रेस विज्ञप्ति में इंदौर ऑटो रिक्शा चालक महासंघ के संस्थापक राजेश बिडकर एवं महासंघ की अनुशासन समिति के अध्यक्ष प्रकाश महावर कोली ने बताया कि कोरोना जैसी महामारी से लड़ने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान पर पूरे देश में लाकडाऊन लागू किया गया है। इस लाकडाऊन का रिक्क्षा चलाकर अपने परिवार का पालन पोषण करने वाले रिक्क्षा चालक भी कड़ाई से पालन कर रहे हैं, इस कारण उनके और उनके परिवार के सामने भूखों मरने की नौबत आ खड़ी हुई है, महासंघ ने पिछले दिनों चमेली के माध्यम से पत्रकार भेजकर रिक्क्षा चालकों को मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक सहायता एवं राहत सामग्री उपलब्ध कराने की माँग की गई थी, लेकिन ने रिक्क्षा चालकों की गम्भीर समस्या सकी और कोई ध्यान नहीं दिया, इसी को ध्यान में रखते हुए महासंघ के आव्हान श्रम आन्दौलन से जुड़े रिक्शा चालकों के साथ ही ठेला चालक, लोडिंग, ई-रिक्क्षा, लोक सेवा वाहन से जुड़े चालकगणो ने भूख हड़ताल का समर्थन करते हुए सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक भूख हड़ताल पर बैठे। श्रम आन्दोलन के प्रणेता एवं रिक्शा चालक महासंघ के राजेश बिडकर एवं अनुशासन समिति के अध्यक्ष प्रकाश महावर कोली के नेतृत्व में आज सेकडो चालकों ने अपने अपने घरों की छत पर लाकडाउन का पालन करते हुए सुबह 8बजे से ही भूख हड़ताल शुरू की। अनुशासन समिति अध्यक्ष प्रकाश महावर जो स्वयं भी रिक्शा चालक हैं ने अपने रिक्शा चालक भाई प्रहलाद महावर, बेटे सुधीर महावर एवं गौतम महावर के साथ भूख हड़ताल प्रारम्भ की। 
आज भूख हड़ताल पर बैठे रिक्शा चालकों की भूख हड़ताल के चित्र मुख्यमंत्री को भेजकर रिक्शा चालकों को आर्थिक सहायता एवं राशन निःशुल्क उपलब्ध कराने की माँग की जाएगी।
भवदीय
प्रकाश महावर कोली 
अध्यक्ष- अनुशासन समिति
इन्दौर आटो रिक्शा चालक महासंघ