*मंदिर प्रशासक श्री रावत ने श्री श्री रविशंकर को योग केन्द्र व प्रवचनहॉल स्‍थापित करने हेतु दिया आमंत्रण  l*
November 6, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

  *मंदिर प्रशासक श्री रावत ने श्री श्री रविशंकर को योग केन्द्र व प्रवचनहॉल स्‍थापित करने हेतु दिया आमंत्रण  l*

उज्जैन। दी आर्ट ऑफ लिविंग के संस्‍थापक, आध्‍यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर ने अपने उज्‍जैन प्रवास के दौरान श्री महाकालेश्वर मंदिर पहुंचकर श्री महाकालेश्‍वर भगवान का पूजन अभिषेक किया। पूजन- अभिषेक पं. अभिषेक शर्मा (बाला गुरू), पं. पियूष चतुर्वेदी ने संपन्‍न कराया। श्री महाकालेश्‍वर भगवान के पूजन के पश्‍चात श्री श्री रविशंकर ने सभामंडप में चल रहे कार्य को देखा और मंदिर परिसर के साक्षी गोपाल मंदिर, श्री नवग्रह मंदिर, श्री अनादिकल्‍पेश्‍वर, श्री वृद्ध महाकालेश्‍वर (जूना महाकाल) अन्‍य मंदिरों में भी दर्शन किये। दर्शन के दौरान मंदिर सहायक प्रशासक श्री चन्‍द्रशेखर जोशी द्वारा श्री रविशंकर को मंदिर के संबंध में जानकारी दी गयी।
            दर्शन उपरांत श्री महाकालेश्‍वर मंदिर प्रबंध समिति के प्रशासक श्री एस.एस. रावत ने श्री श्री रविशंकर का दुपट्टा एवं प्रसाद भेंट कर सम्‍मान किया, तथा मंदिर में होने वाली गतिविधियां, विकास तथा विस्‍तार योजनाओं के संबंध में जानकारी दी तथा श्री श्री रविशंकर को श्री महाकालेश्‍वर मंदिर में योग केन्‍द्र एवं प्रवचनहॉल स्‍थापित करने हेतु आमंत्रित किया। चर्चा के दौरान श्री श्री रविशंकर ने कहा कि, मंदिर परिसर में 27 नक्षत्र के अलग-अलग वृक्ष (नक्षत्र वाटिका) एवं नवग्रह के वृक्ष लगाये जाने चाहिए। वृक्ष के सामने उसके नाम व उससे होने वाले लाभ के संबंध में जानकारी के विवरण का बोर्ड लगा हो, जिसकी परिक्रमा मात्र से भक्‍तों को शांति मिलेगी व रोग भी ठीक होते है।

 श्री श्री रविशंकर ने मीडिया से चर्चा में कहा कि, वे बहुत साल बाद श्री महाकालेश्‍वर मंदिर आयें है। मंदिर की व्‍यवस्‍था बहुत अच्छी है, लोगों को मंदिर में आने-जाने व दर्शन करने में काफी सुविधा है। इस दौरान सहायक प्रशासनिक अधिकारी श्री आर.के. तिवारी, सुरक्षा अधिकारी सुश्री रूबी यादव आदि उपस्थित थे।