*कोरोना वायरस पीड़ित 17 मरीज एक-दो दिन में ठीक हो जायेंगे - कमिश्नर श्री त्रिपाठी*
April 4, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

*कोरोना वायरस पीड़ित 17 मरीज एक-दो दिन में ठीक हो जायेंगे - कमिश्नर श्री त्रिपाठी*
*जनता से लॉकडाउन का कड़ाई से पालन की अपील*
*बुजुर्ग, हाइपरटेंशन और डायबिटीज से पीड़ित मरीज विशेष सावधानी बरतें*
*एक-दो दिन में घर-घर सप्लाय होगा किराना सामान*
इंदौर 03 अप्रैल, 2020
 कमिश्नर श्री आकाश त्रिपाठी ने बताया कि इंदौर संभाग में आठ जिलों में कोरोना वायरस से मात्र इंदौर और खरगोन प्रभावित हैं। खरगोन के सभी मरीज कोरोना वायरस के निगेटिव पाये गये हैं, यानि ठीक हो गये हैं। मगर इंदौर में आज की स्थिति में 89 मरीज हैं, जिनकी जाँच और इलाज सघन तरीके से चल रहा है। एक-दो दिन में लगभग 17 मरीज ठीक हो जायेंगे। इंदौर में 5 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। उन्होंने जनता से अपील की है कि सर्दी, खाँसी, बुखार और सांस लेने में तकलीफ होने पर तुरंत नजदीकी अस्पताल में जाँच करायें, बीमारी को छुपायें नहीं। जिले में जिन 5 मरीजों की मृत्यु हुई है, वे अस्पताल आने में विलंब कर दिये। इधर उनकी जाँच चल रही थी, उधर वे कोमा में चले गये। उन्होंने जनता से अपील की है कि कोरोना वायरस से पीड़ित मरीज को तुरंत अस्पताल में भर्ती करायें, जिससे उसका समय पर इलाज किया जा सके। समय पर इलाज होने से यह बीमारी ठीक हो सकती है। 
 उन्होंने यह भी कहा कि इलाज से बचाव अच्छा होता है। इंदौर जिले में आमजन घर में रहें और शरीर प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिये कम से कम 15 मिनट रोज प्राणायाम करें और विटामिन सी यानि नींबू, आवला और संतरा आदि रोज सेवन करें। उन्होंने कहा कि जिनकी उम्र  अधिक है या जो हाइपरटेंशन से अथवा डायबिटीज से पीड़ित है और उनका शुगर लेबल अधिक बढ़ गया है, ऐसे लोगों पर बीमारी जल्दी अटैक कर रही है। ऐसे लोगों को विशेष सावधान रहने की जरूरत है। स्वास्थ्य और राजस्व विभाग द्वारा संदिग्ध व्यक्तियों को कोरेंटाइन किया जा रहा है। संदिग्ध मरीजों का अस्पताल में आइसोलेशन कर इलाज किया जा रहा है। इंदौर में अरविंदो और एमटीएच अस्पताल में कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों का इलाज किया जा रहा है। 
उन्होंने बताया कि जिले में जाँच उपकरण और वेंटिलेटर और दवाओं की कोई कमी नहीं है। पर्याप्त वेंटिलेटर मौजूद हैं। एक हजार वेंटिलेटर एक-दो दिन में और आ जायेंगे। चर्चा के दौरान उन्होंने बताया कि जिले में गैस और दूध सप्लाय के लिये जिला प्रशासन द्वारा समय निर्धारित किया गया है। इसी प्रकार उपभोक्ताओं को एक-दो दिन में घर बैठे आर्डर देने पर किराना सप्लाय किया जायेगा। उन्हें कचरा गाड़ी को आर्डर स्लीप देना पड़ेगा, उसके बाद किराना व्यवसायी घर-घर जाकर सामान सप्लाय करेंगे। इस समय किराना व्यापारियों की दुकानों में माल भरने का काम चल रहा है। इस मुहिम में थोक किराना व्यापारी, बिग बाजार और जोमोटो की डिलेवरी वैन भी चलायेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस की प्रतिदिन सौ जाँच हो रही है, इसे कल तक डेढ़ सौ तक बढ़ा दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान घबराने की जरूरत नहीं है। एक सप्ताह में स्थिति सुधर जायेगी।