*जमात ने फैलाया कोरोना। मज़हब के नाम पर अधर्म करना देशद्रोह। हॉटस्पॉट, मस्जिद, मरकज परिसरों में कड़ी माइक्रो सर्चिंग हो।  कांग्रेस की जुबाँ बन्दी रहस्यमय : मालू*
April 4, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

*जमात ने फैलाया कोरोना। मज़हब के नाम पर अधर्म करना देशद्रोह। हॉटस्पॉट, मस्जिद, मरकज परिसरों में कड़ी माइक्रो सर्चिंग हो।  कांग्रेस की जुबाँ बन्दी रहस्यमय : मालू*

जिस तरह से कोरोना के मरीजों के हॉट स्पॉट उजागर हो चुके हैं, उसके बाद प्रशासन को उन क्षेत्रों का माइक्रो सर्चिंग अभियान सघनता से चलाया जाना चाहिए, जँहा मरीजों की बड़ी संख्या मिली।
खनिज निगम के पूर्व उपाध्यक्ष श्री गोविन्द मालू ने माँग कि है कि" तब्लीगी जमात के लोगों नें जिस तरह देश भर में जान बूझकर कोरोना फैलाया है, देश भर में थूकने औरB सोशल डिस्टेंसिंग अभियान को भी ध्वस्त करने की घटनाएं हुई, वह इस बात की पुष्टि भी करती है कि, उन्होंने मज़हब के नाम पर अधर्म किया है। केंद्र सरकार नें 930 तब्लीकि जमात के विदेश से आए लोगों के वीज़ा निरस्त कर उन्हें ब्लेक लिस्टेड किया यह उचित तो है, परन्तु पर्याप्त कदम नहीं है।
देश भर में मरकज़ और मस्जिद परिसर की सघन, माइक्रो सर्चिंग चलाया जाना चाहिए।ताकि और छुपे लोगों का पता लगाया जा सके, यह माँग केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह को मेल के जरिए ज्ञापन भेजकर की, यही अपेक्षा मुख्यमंत्री श्री शिवराजजी से की।

मालू ने कहा कि स्थानीय प्रशासन को मस्जिद और मरकज़ परिसर में बनें तलघर की भी सर्चिंग करना चाहिए।जमात के लोग देश में अराजकता और बीमारी फैलाने का षडयंत्र कर रहे थे, यह देश भर की अलग अलग घटनाओं के एक जैसे स्वरूप से सिध्द होता है।इसलिए राष्ट्र और अवाम विरोधी गतिविधियों के चलते जमात और ऐसे कई संगठनों पर जो विदेशी फन्डिंग और इशारों पर चलते है उन पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए।

मालू ने "हर छोटी सी बात पर बोलने वाले काँग्रेस के सभी नेताओं के इस मसले पर मौन को भी संदिग्ध रहस्यमय बताया है।" आपने कहा  "काँग्रेस को प्रदेश के मंत्रिमंडल के गठन नहीं होने पर तो पेट दुख रहा है, लेकिन देश भर में जमातियों के थूकने, अराजकता फैलाने, चिकित्सा कर्मियों से अश्लील हरकतें करने पर उनकी जुबान को फ़ालिज क्यों मार रहा है?
*गोविन्द मालू*