*इंटरनेशनल आरएनडी क्रियेटिविटी आर्गोनाइजेशन, यूएसए का आयोजन नई पीढ़ी के लिए रोजगार के बेहतर अवसर - डॉ. सालविया एक्सपोर्ट करने के लिए टैक्स नहीं लगता- गुप्ता
November 26, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

इंटरनेशनल आरएनडी क्रियेटिविटी आर्गोनाइजेशन, यूएसए का आयोजन
नई पीढ़ी के लिए रोजगार के बेहतर अवसर - डॉ. सालविया
एक्सपोर्ट करने के लिए टैक्स नहीं लगता- गुप्ता

इंदौर। हमारे यहां युवाओं के लिए रोजगार की कमी नहीं है, बशर्तें  है आज का युवा अपनी रूचि और इंडस्ट्री को ध्यान में  रखकर खुद को तैयार करें। आजकल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की बहुत अधिक मांग है। साथ में अंग्रेजी भाषा पर भी कमांड होना जरूरी है।
ये विचार एक्सपर्ट डॉ. विजय कुमार सालविया के हैं जो उन्होंने इंटरनेशनल आर एण्ड डी क्रियेटिविटी आर्गोनाइजेशन, यूएसए द्वारा एक निजी होटल में आयोजित कार्यशाला में व्यक्त किए। डॉ. सालविया ने आगे कहा कि आज हम अपना स्वयं का स्टार्टअप शुरू करें और दूसरों के यहां रोजगार पाने के वजाय हम अपना स्वयं का रोजगार शुरू करें। इंटरनेशनल आर एण्ड डी क्रियेटिविटी आर्गोनाइजेशन, यूएसए एक ऐसी संस्था है जो युवाओं को रोजगार दिलाने में मदद करती है। इस संस्था से पूरी दुनिया में 5 लाख युवा जुड़े हैं, जबकि अेकेल भारत में 60 हजार। यह संस्था पिछले 10 वर्षों से युवाओं के बीच में कार्य कर रही है।
जैविक कृषि विद्वान राकेश उपाध्याय ने कहा कि हमारा रोजगार ऐसा हो जो पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाए। आज कीटनाशक दवाईयों से फसलें सबसे अधिक बर्बाद हो रही है। आई-साफ्टझोन के फाउंडर प्रणय गुप्ता ने कहा कि आईटी के क्षेत्र में रोजगार दिनों दिन बढ़ते जा रहे हैं। एक्सपोर्ट-इम्पोर्ट एक्सपर्ट विकास गुप्ता ने कहा कि एक्सपोर्ट करने पर किसी प्रकार का टैक्स नहीं लगता, क्योंकि इससे सरकार को बड़ी मात्रा में विदेशी मुद्रा मिलती है। इंजीनियर विकास गुप्ता ने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी के दौर में हम आर्टिफिशियल इंजीनियरिंग को सीखने की ओर कदम बढ़ाए। प्रवीण जोशी ने कहा कि प्रिंट मिडिया में रोजगार की बेहतर संभावनाएं हैं। होटल इंडस्ट्री से जुड़े महेश पुरोहित ने कहा कि हम ऐसे क्षेत्र में निवेश करें जहां से हमें बेहतर प्रतिसाद मिले। कार्यशाला में बड़ी संख्या में विभिन्न संस्थानों के छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।