★ *इंदौर शहर में कर्फ्यू के दौरान अवैध तरीके से देशी मदिरा बेचने की फिराक में घूम रही गिरोह क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में।*
April 5, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

 

★ *इंदौर शहर में कर्फ्यू के दौरान अवैध तरीके से देशी मदिरा बेचने की फिराक में घूम रही गिरोह क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में।*

★ *आरोपियों ने देशी शराब दुकान का ताला तोड़कर चुराई थी देशी मदिरा, लॉक डाउन अवधि में महँगे दामों में अवैध रूप से बेचते हुए धराये।*

 ★ *04 आरोपी गिरफ्तार, अन्य साथियों की तलाश जारी।*

 ★ *नकबजनी के अपराध में गिरफ्तारी के अलावा आबकारी अधिनियम के तहत की गई कार्यवाही।*

★ *आरोपियों के कब्जे से 13 पेटी देशी शराब हुई बरामद।*

      लॉक डाऊन के दौरान अवैध रुप से शराब बिक्री, कालाबाजारी, एवं अन्य अवैध गतिविधियों के सम्बंध में आसूचना संकलित कर आरोपियों पर कार्यवाही करने हेतु पुलिस उपमहानिरीक्षक इन्दौर (शहर) श्री हरिनारायणाचारी मिश्र  व्दारा इन्दौर इंदौर पुलिस को निर्देशित किया गया। उक्त निर्देशों के तारतम्य में पुलिस अधीक्षक मुख्यालय श्री सूरज वर्मा के निर्देशन मे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राईम ब्रांच श्री राजेश दंडोतिया व्दारा क्राईम ब्रांच टीम का गठन कर आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त आरोपियों पर की धरपकड करने हेतु समुचित निर्देश दिये गये।

         क्राइम ब्रांच की टीम को सूचना मिली थी कि  कुछ लोग ग्राम डकाच्या के पास अवैध रुप से भारी मात्रा मे देशी शराब विक्रय करने के उद्देश्य से बैठे हैं  सूचना पर तत्काल कार्यवाही करते हुये क्राइम ब्रान्च की टीम मय थाना क्षिप्रा पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे जहाँ तीन लोग उपस्थित मिले जो पुलिस को देख भागने का प्रयास करने लगे जिन्हे घेराबंदी कर पकडा गया इन्होंने अपने नाम (1) अनिल उर्फ नाना पिता अंतर सिंह चौहान उम्र 25 साल नि. नाथ मोहल्ला बुढि बरलई क्षिप्रा इन्दौर (2) भूरु उर्फ भज्जी पिता सुखराम माईला उम्र 20 साल निवासी नागराज कालोनी क्षिप्रा एवं (3)शंकर पिता जगदीश मानकर उम्र 19 साल निवासी नाथ मोहल्ला क्षिप्रा इन्दौर तथा (4) प्रकाश पिता अनार सिंह मानकर उम्र 35 साल निवासी ग्राम खाकरोट क्षिप्रा  का होना बताये।

 आरोपीगण के पास रखे कार्टुन की तलाशी लेने पर कार्टून के अँदर देशी शराब की 13 पेटी रखी मिली आरोपीगण से देशी शराब रखने का लाईसेंस तलब किया जो कि नही था, इस प्रकार अवैध शराब विक्री के परिपेक्ष्य में आरोपीगण का कृत्य  धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत दण्डनीय पाए जाने से उपरोक्त आरोपियों के विरुद्ध थाना क्षिप्रा में अपराध पंजीबद्ध किया जाकर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।

 आरोपीगण से विस्तृत पूछताछ करने पर ज्ञात हुआ कि  आरोपी अनिल पिता अंतर सिंह चौहान, भूरु उर्फ भज्जी पिता सुखराम, एवं शंकर पिता जगदीश मानकर   वने दो दिन पूर्व दिनाँक 02/4/2020 की दरमियानी रात मे  अपने अन्य साथियों, मनोज नाना, डबल तथा शिखर के साथ मिलकर साँवेर रोड देशी कलाली पीरकराडिया की देशी मदिरा अनुज्ञापित शराब दुकान से  शटर काटकर करीब 20 से 25 पेटी देशी शराब चोरी की थी। 

उपरोक्त दुकान से शराब की पेटी चोरी के संदर्भ में थाना क्षिप्रा में नकबजनी का प्रकरण 114/20 धारा 457, 380 भादवि के तहत अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध पँजिबद्ध किया गया था जिसके तारतम्य में अवैध शराब विक्री करते हुए पकड़े गए आरोपियों से पूछताश में उक्त वारदात का खुलासा हुआ है।

पूछताछ में ज्ञात हुआ कि देशी कलाली के मालिक शिवप्रसाद जैसवाल के यहाँ पहले आरोपी शिखर काम करता था फिर किसी अनबन के कारण उसे शिवप्रसाद ने अपनी दुकान से निकाल दिया था । शिखर को दुकान की सुरक्षा संबंधित सारी जानकारी थी इसलिये कोरोना वायरस के कारण हुये लॉक डाउन मे उसने उक्त दुकान मे चोरी करने की योजना बनाई तथा अपने साथ अन्य लोगो को भी इसमे शामिल कर वारदात कर डाली।

लॉक डाउन के कारण शराब दुकाने बंद थी इसलिये एसी स्थिती मे महंगे दाम मे शराब बेचने के लिये उसने शराब की दुकान से चोरी करने की योजना बनाई थी बाद साथीदारान के साथ दुकान से करीब 20 से 25 पेटी देशी शराब की चोरी की थी। 

आरोपी अनिल उर्फ नाना पुताई का काम करता है, आरोपी शंकर, प्रकाश व भज्जी खेतीबाडी व मजदूरी के काम करते हैं । 

      आरोपीगण के कब्जे से देशी शराब की 13 पेटी कुल कीमती करीबन 01 लाख रुपये की मदिरा जप्त की गयी हैं । मामले मे अन्य आरोपी शिखर, मनोज, नाना एवं डबल वर्तमान मे फरार है जिनकी गिरफ्तारी के प्रयास जारी है।