*इंदौर में अब तक 1500 लोग क्वारैंटाइन, कल से आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं की विशेष टीम भी सर्वे करेगी*
April 5, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

*इंदौर में अब तक 1500 लोग क्वारैंटाइन, कल से आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं की विशेष टीम भी सर्वे करेगी*


कोरोना पॉजिटव मिले नए मरीजों के घर के आसपास कैंटोनमेंट क्षेत्र घोषित किया
गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा 350 लोगों की स्क्रिनिंग की गई थी
इंदौर. कोरोनावयरस से बचाव के लिए शहर में अब तक 1500 लोगों को क्वारैंटाइन किया गया है। शनिवार से आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं की विशेष टीम भी कोरोना प्रभावित क्षेत्रों में सर्वे के लिए उतरेगी। कोरोना पॉजिटिव मरीजों के प्राथमिक संपर्क में परिजन भी शामिल है। इसके अलावा सेकंडरी कांटेक्ट का भी सर्वे किया जा रहा है। गुरुवार रात आई रिपोर्ट में पॉजिटिव पाए गए मरीजों के घरों और क्षेत्र को शुक्रवार को सील किया गया।
सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया के अनुसार, गुरुवार रात इंदौर मेडिकल कॉलेज की रिपोर्ट में 7 मरीज पॉजिटिव थे, वहीं भोपाल के गांधी मेडिकल कॉलेज से प्राप्त रिपोर्ट में भी 7 मरीजों में कोरोनावायरस की पुष्टि हुई थी। इस प्रकार इंदौर में पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 89 हो गई।
डॉ. जड़िया ने बताया कि अब तक इंदौर में कुल 1500 लोगों को क्वारैंटाइन किया जा चुका है। गुुरुवार को 350 लोगों का सर्वे मेडिकल टीम द्वारा किया गया, इसमें से 85 लोगों को होम क्वारैंटाइन किया गया और 15 लोगों को आइसोलेशन के लिए क्वारैंटाइन सेंटर भेजा गया।
शनिवार से आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और आशा कार्यकर्ताओं की विशेष टीम भी कोरोना प्रभावित क्षेत्रों में सर्वे के लिए उतरेगी। लगभग 200 कार्यकर्ताओं को इस टीम में शामिल किया गया है। यह टीम विशेष एप के माध्यम से कोरोना पॉजिटिव मरीजों के प्राथमिक संपर्क में आए लोगों में मरीज के परिजन शामिल हैं। इसके अलावा सेकंडरी संपर्क में आए लोगों का सर्वे करेगी।
सीएमएचओ के अनुसार, जिन नए क्षेत्रों में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं उन क्षेत्रों को भी कैंटोनमेंट क्षेत्र घोषित कर दिया गया है। अब तक जितने भी पॉजिटिव मिले हैं उनमें से अधिकांश मरीज के परिवार के सदस्य ही शामिल हैं जिन्हें प्रशासन द्वारा पहले से ही क्वारैंटाइन किया जा चुका था। प्रशासन द्वारा 800 चिन्हित लोगों को होम क्वारैंटाइन करने की तैयारी है।