*इंदौर के खजराना में बरकती सिक्के पाकर धन्य हुए भक्तगण l*
January 3, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

इंदौर के खजराना में बरकती सिक्के पाकर धन्य हुए भक्तगण
 इंदौर।  हर व्यकित अपने घर में सदैव बरकत चाहता है । इसके लिए पूजा पाठ और धार्मिक कार्योंे में जुटा रहता है।बरकती सिक्कों को अपने घर में रखने के लिए लोग कड़कती ठंड में खजराना स्थित बिजासन माता मंदिर में इक्कठा हुए। बरकती सिक्के पा कर यहां आने वाले भक्तों के चेहरे पर अलग ही चमक देखने को मिली। 
बिजासन माता मंदिर के मुख्य पुजारी अभिषेक शुक्ला माताजी ने यहां आए लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जो व्यक्ति रोज सुबह उठकर अपने माता-पिता के चरण स्पर्श कर आशीर्वाद प्राप्त करता है उनका आदर करता है निरंतर सेवा करता है तो उस पर ईश्वर की कृपा और घर में हमेशा बरकत बनी रहती है । 12 वर्षों से निरंतर चल रहा करकती सिक्कों का  निशुल्क वितरण करते हुए खजराना वाली श्रद्धालुओं को आशीर्वाद स्वरुप उन्होंने कहा कि आज व्यक्ति अपने हमने कार्य करता है माता पिता को वृद्धआश्रम में रखता है ऊंची सोसाइटी में उठना बैठना कर मदिरापान करता है । नशीले भयंकर अपने को दुखी और हाई प्रोफाइल का व्यक्ति  समझता है उसे यह नहीं पता होता है कि वह निरतंर विनाश की ओर कदम रख चुका है । मंदिर की व्यवस्थापक श्रीमती भावना शुक्ला के अनुसार प्रतिवर्ष आज मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं का आगमन शाम 6:00 बजे से शुरू हुआ था जो लगभग 15000 श्रद्धालुओं ने माता जी से निशुल्क बरकती सिक्के प्राप्त किए । मुख्य पुजारी पूज्य श्री अभिषेक माताजी द्वारा दीपावली की रात से सिक्कों को अभिमंत्रित करने कार्य किया जाता है जो निरंतर 2 जनवरी तक किया गया।  बरकती सिक्के पाने के लिए घंटों पहले ही भक्तगण यहां जमा हो गए। मंदिर में व्यवस्था इस प्रकार की गई थी कि किसी को किसी प्रकार की असुविधा ना हो । बरकती सिक्के के लिए लोग काफी देर तक खजराना स्थित बिजासन मंदिर में जमे रहे। यहां खजराना गणेश के दर्शन करने वाले लोगों को जब इन बरकती सिक्कों  के विरतण के बारे में पता चला तो वे भी यहां से बरकती सिक्का लेकर ही अपने घर गए। 
स्पेशल रिपोर्ट रश्मि किंगरानी , इंदौर