*हरियाणा / कोरोना से लड़ रहे मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को मिलेगी दोगुनी सैलरी*
April 10, 2020 • धर्मेंद्र शुक्ला

*हरियाणा / कोरोना से लड़ रहे मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को मिलेगी दोगुनी सैलरी*

चंडीगढ़. हरियाणा सरकार ने कोरोनावायरस से लड़ रहे डॉक्टरों के लिए गुरुवार को बड़ा ऐलान किया है। सीएम मनोहर लाल खट्टर ने सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को दोगुनी सैलरी देने का ऐलान किया है। यह सैलरी सरकार के आगामी आदेश तक जारी रहेगी। सीएम ने यह फैसला कोरोनावायरस राहत प्रबंध की रिव्यू बैठक में लिया। 
मुख्यमंत्री गुरुवार को चंडीगढ़ में प्रदेश के सभी सिविल सर्जनों, आईएमए प्रतिनिधियों, हेल्थ विवि के वीसी, मेदांता मेडिसिटी के निदेशक डॉक्टर नरेश त्रेहन, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने विभिन्न जिलों में आइसोलेशन वार्ड में काम करने वाली नर्सों तथा डाक्टरों के साथ बातचीत की। 
इस दौरान डाक्टर सोनिया ने कहा कि डयूटी के दौरान उनके सामने ढेरों चुनौतियां हैं। कई जगह डबल-डबल ड्यूटी दी जा रही है। इसलिए सरकार तत्काल राहत का पैकेज दे। इस सुझाव को अमली रूप देते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज तथा विभागीय अधिकारियों से विचार-विमर्श के बाद कहा कि कोविड-19 के तहत ड्यूटी देने वाले मेडिकल तथा पैरा मेडिकल स्टाफ को सैलरी दो गुणा होगी। उन्होंने कहा कि इस दायरे में डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल श्रेणी के कर्मचारी, दर्जा चार कर्मचारी तथा एंबुलेंस चालक आदि शामिल होंगे।

*एक्सग्रेशिया का पैसा भी बढ़ाया* 
सरकार द्वारा केंद्र के दायरे में शामिल नहीं होने वाले डॉक्टरों को एक्सग्रेशिया के तहत 50 लाख, नर्सों को 30 लाख,पैरामेडिकल स्टाफ को 20 लाख तथा दर्जा चार कर्मचारियों को दस लाख रुपये दिए जाने का ऐलान पहले ही लागू किया जा चुका है। 
इसके अलावा पयर्टन विभाग के होटलों में रहने व खाने की सुविधा प्रदान की जा रही है। दो गुणा सैलरी की सुविधा कोरोना अभियान जारी रहने तक मिलेगा। इस बैठक में हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज, स्वास्थ्य विभाग के एसीएस राजीव अरोड़ा समेत कई अधिकारी मौजूद थे।