पत्रकार स्वास्थ्य एवं दुर्घटना समूह बीमा योजना की प्रीमियम राशि घटाने की मांग* *मुख्यमंत्री से मिला इंदौर प्रेस क्लब का प्रतिनिधिमंडल*
September 14, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

*पत्रकार स्वास्थ्य एवं दुर्घटना समूह बीमा योजना की प्रीमियम राशि घटाने की मांग*

*मुख्यमंत्री से मिला इंदौर प्रेस क्लब का प्रतिनिधिमंडल*

 इंदौर। मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग द्वारा पत्रकार स्वास्थ एवं दुर्घटना समूह बीमा योजना के तहत निर्धारित सालाना प्रीमियम में की गई वृद्धि के विरोध में इंदौर प्रेस क्लब का एक प्रतिनिधिमंडल आज मुख्यमंत्री कमलनाथ से मिला। अध्यक्ष अरविंद तिवारी के नेतृत्व में ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में हुई मुलाकात में मांग की गई कि प्रीमियम राशि में दोगुना वृद्धि की गई है, जो मीडियाकर्मियों के लिए भर पाना काफी मुश्किल है। 
 गौरतलब है कि मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग द्वारा पत्रकार स्वास्थ एवं दुर्घटना समूह बीमा योजना के तहत पत्रकार, फोटोग्राफर एवं कैमरामेन के लिए लागू की गई है, और जिसके दायरे में अधिमान्यता प्राप्त तथा गैर अधिमान्य पत्रकार आते हैं की सालाना प्रीमियम राशि में इस बार भारी बढ़ोतरी की गई है। यह बढ़ोतरी पिछली साल की की तुलना में लगभग दोगुनी है। तय स्लेब के मुताबिक सालाना प्रीमियम की 85 प्रतिशत तक राज्य सरकार द्वारा वहन की जाती है। शेष राशि मीडियाकर्मियों को भरना पड़ती है। अध्यक्ष श्री तिवारी ने मुख्यमंत्री से कहा कि इस राशि में संबंधित बीमा कंपनी द्वारा इस वर्ष दोगुनी वृद्धि कर दी गई हैै, जो मीडियाकर्मियों के लिए न्याय संगत नहीं है। इसे तत्काल वापस लिया जाना चाहिए और प्रीमियम राशि गत वर्ष के समान ही की जाना चाहिए। 
 उन्होंने कहा कि प्रीमियम राशि में वृद्धि किए जाने से वित्तीय बोझ पत्रकारों एवं मीडियाकर्मियों पर पड़ेगा। पत्रकार स्वास्थ एवं दुर्घटना समूह बीमा योजना पत्रकारों के कल्याण के लिए लागू की गई है। ऐसे में इसकी सालाना प्रीमियम राशि में दोगुना बढ़ोतरी पत्रकारों के हितों पर सीधा कुठाराघात है। उन्होंने आवेदन की तिथि बढ़ाने की भी मांग मुख्यमंत्री से की। श्री कमलनाथ ने आश्वस्त करते हुए कहा कि इस मामले में सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा। पत्रकारों के हित में सरकार हरसंभव मदद करेगी। प्रतिनिधिमंडल में प्रेस क्लब महासचिव श्री नवनीत शुक्ला, उपाध्यक्ष श्री संजय जोशी, सचिव श्री हेमन्त शर्मा, कार्यकारिणी सदस्य श्री प्रदीप जोशी, श्री संजय त्रिपाठी, श्री विजय गुंजाल आदि मौजूद थे।