पतंजलि के दूध के एक्सपॉयरी होने के बाद भी उसके डेट को बदलकर बेचे जाने का प्रकरण सामने आया है
September 21, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

           पतंजलि के दूध के एक्सपॉयरी होने के बाद भी उसके डेट को बदलकर बेचे जाने का प्रकरण सामने आया है
September 21, 2019 • 

            पतंजलि के दूध के एक्सपॉयरी होने के बाद भी उसके डेट को बदलकर बेचे जाने का प्रकरण सामने आया है। शदाणी मार्केट में एक गोदाम एफ 57 नंबर दुकान में फूड एंड ड्रग विभाग की टीम ने छापामारी की थी, जहां करीब 20 हजार पतंजलि दूध के पैकेट पाए गए। वहां कुछ कर्मचारी दूध के एक्सपायरी डेट के लेवल को बदलने में जुटे हुए, जिनके पास से करीब आठ हजार नया लेवल के रैपर भी बरामद किए गए थे।

              विभागीय जानकारी के मुताबिक इन कर्मचारियों ने बताया कि ये गोरखधंधा करीब साल भर से कर रहे थे। यानी हर माह करीब 5,000 हजार लीटर दूध के एक्सपॉयरी डेट के लेवल बदल रहे हैं। बहरहाल बरामद दूध के नमूने को प्रयोगशाला में भेजा गया है। अधिकारी के मुताबिक इसकी रिपोर्ट अभी आने में करीब 20 दिन से अधिक समय लगेगा। लेकिन एक बात तो लेबल बदलने से पुष्ट हो गई है कि जहरीले दूध को शहर की दुकानों में खपाया जा रहा था।

        इसमें कंपनी नहीं, बल्कि कुछ लोग ऐसे पैकेटों को दुकान से उठाने के बाद उसे नए लेबल लगाकर फिर से सस्ते दाम में आपूर्ति करते थे। ऐसे में जाहिर है कि अब सामान्य और एक्सपायर नहीं होने वाले पतंजलि के दूधों की भी जांच होगी, ताकि इस बात की पुष्टि हो सके कि दूध के खतरनाक तत्व को शहरवासियों को बचाया जा सके। अभी कार्रवाई के लिए जांच प्रक्रिया चल रही है। फूड एंड ड्रग अधिकारी राजेश श्रत्री ने बताया कि दुकान के किरायानामा निकलवा रहे हैं। इसके बाद दुकान मालिक पर एफआइआर कराएंगे।