जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये किये जायेंगे विशेष प्रयास      इंदौर टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल की बैठक संपन्न
August 29, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

 

      जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये किये जायेंगे विशेष प्रयास
     इंदौर टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल की बैठक संपन्न
 इंदौर l
कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में इंदौर टूरिज्स प्रमोशन काउंसिल की बैठक संपन्न हुई। इस अवसर पर कलेक्टर श्री जाटव ने कहा कि जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये विशेष प्रयास किये जायेगें। जिले में एयर और ट्रेन कनेक्टिविटी को देखने हुए पर्यटन की व्यापक संभावनाएं हैं। जिला प्रशासन ग्रामीण पर्यटन को भी बढ़ावा देगा। इसके लिये शीघ्र ही आवश्यक कदम उठाये जायेगें। इस दिशा में आज इंदौर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन, धार्मिक संगठनों और स्वयं सेवी संगठनों से प्राप्त सुझावों को अमल में लाया जायेगा। जिले में पर्यटन का बढ़ावा देने  के लिये पर्यटन बस शुरू की जायेगी। यह बस राजबाड़ा, लालबाग, चोरल, वांचु पाइंट, पातालपानी, उज्जैयनी, बामनिया कुंड़, कुशलगढ़, महू, जामगेट, शीतला माता फॉल, जानापाव आदि जगहों पर जायेगी। बस संचालन के लिये रूट चार्ट और बस सुविधाएं एआईसीटीसीएल उपलब्ध करायेगा। 
 उन्होने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये बांस कुटीर और शौचालय बनाये जायेगें। पर्यटन से जुड़े लोगों को प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। बैठक में टूरिस्ट बस एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने सुझाव दिया कि सराफा और कांच मंदिर का भी पर्यटन गतिविधियों से जोड़ा जाये। इसी प्रकार जिला प्रशासन द्वारा छपने वाले कॉफी-टेबल बुक में इंदौर के गणगौर महोत्सव, गणेश विसर्जन की झांकियां और रंगपंचमी गैर के फोटो और इतिहास को भी शामिल किया जाये। टूरिस्ट बस में प्रशिक्षित गाइड की नियुक्ति की जाये। जानापाव पहाड़ी को धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाये। बामनिया कुंड़ और मेहंदी कुंड को भी पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाये। ग्राम रतीबी, केटनिया और डाबी में पर्यटन शिविर आयोजित किये जायें। 
 इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती नेहा मीना ने बताया कि कॉफी-टेबल छपवाने के लिये फोटो प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है, ‍जिसकी प्रविष्टियां आमंत्रित करने की अंतिम तिथि 31 अगस्त 2019 निर्धारित की गई है। जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के बेरोजगारों को रोजगार के अवसर मिलेगें। आने वाले समय में जानपाव पहाड़ी पर धार्मिक गतिविधियां आयोजित की जायेगी, जिसमें ध्यान और योग भी शामिल हैं। पर्यटन केन्द्र पातालपानी के प्रवेश पर 10 रूपये प्रति व्यक्ति शुल्क लगेगा। यह राशि ग्राम पंचायत द्वारा पातालपानी की साफ-सफाई और रखरखाव पर खर्च की जायेगी। जिला प्रशासन द्वारा अगले माह वाटर स्पोर्ट्स का आयोजन किया जायेगा। चोरल में बर्ड वाचिंग सेंटर विकसित किया जायेगा।  
 बैठक में जामगेट पर सुरक्षा और स्वच्छता, जानापाव का रखरखाव, वाटर स्पोर्ट्स, सिटी वॉक फेस्टिबल, इको-टूरिज्म विलेज आदि विषयों पर बिंदुवार चर्चा की गई। बैठक में एसडीएम महू श्री अंशुल गुप्ता, अपर आयुक्त श्री संदीप सोनी, पर्यटन विभाग अधिकारी और स्वयं सेवी संगठनों में प्रतिनिधि मौजूद थे।