ग्राम जामली पहुंची सरकार          अधिकारियों के दल ने ग्रामीणों की समस्याएं सुनी, उनका निराकरण किया आकास्मिक निरीक्षण कर योजनाओं, कार्यक्रमों की  मैदानी हकीकत भी जानी
September 19, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

*इंदौर अपडेट*

 

 

        ग्राम जामली पहुंची सरकार
         अधिकारियों के दल ने ग्रामीणों की समस्याएं सुनी, उनका निराकरण किया आकास्मिक निरीक्षण कर योजनाओं, कार्यक्रमों की  मैदानी हकीकत भी जानी
इंदौर 18 सितंबर 2019
 राज्य शासन द्वारा दिये गये दिशा-निर्देशानुसार इंदौर जिले में “आपकी सरकार-आपके द्वार” कार्यक्रम में अंतर्गत शिविर आयोजन कर सिलसिला जारी है। इसी सिलसिले में आज मुंबई-आगरा रोड पर स्थित ग्राम जामली में “आपकी सरकार-आपके द्वार”‍ शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में ‍जिला तथा विकासखण्ड स्तर के अधिकारियों ने मौजूद रहकर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना और उनका यथासंभव निराकरण किया, जिन समस्याओं का मौके पर निराकरण नहीं किया जा सका, उनके निराकरण के लिये समय-सीमा तय की गई। इसी कार्यक्रम के तहत अधिकारियों एवं स्वयंसेवी संस्था तथा डाइट तथा समाज कार्य महा विद्यालय के विद्यार्थियों दल ने ग्राम उमरिया में आकास्मिक रूप से पहुंचकर शासकीय योजनाओं, कार्यक्रमों के क्रियावंयन की मैदानी हकीकत पता की। 
 ग्राम जामली में आयोजित शिविर में जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नेहा मीना, पूर्व विधायक श्री अंतरसिंह दरबार, श्री जाधव सिंह, श्री दिनेश धूत आदि जनप्रतिनिधि मौजूद थे। शिविर में श्रीमती नेहा मीना ने उपस्थितों को पोषण माह के अंतर्गत शपथ दिलाई। उन्होने “आपकी सरकार-आपके द्वार” कार्यक्रम के उद्देश्यों के बारे में बताया। उन्होने कहा कि यह कार्यक्रम शुरू होने से ग्रामीणों को जिला स्तर तथा विकासखण्ड स्तर पर नहीं जाना पड़ेगा, उनकी समस्याएं ग्राम स्तर पर ही हल होगी। कार्यक्रम को श्री अंतर सिंह दरबार ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में 10 महिलाओं का गोदभराई का कार्यक्रम भी हुआ। साथ ही 10 बच्चों का अन्नप्राशन का कार्यक्रम भी किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत हितग्राहियों को लाभांवित भी किया गया। जामली में कुल 141 आवेदन आये, जिसमें से 98 का निराकरण मौके पर किया गया। शेष 43 आवेदनों के निराकरण के लिये 03 दिन की समय-सीमा तय की गई।
जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नेहा मीना ने पढ़ाया बच्चों को
 “आपकी सरकार-आपके द्वार” कार्यक्रम के अंतर्गत जिला पंचायत की सीईओ श्रीमती नेहा मीना भी आकास्मिक निरीक्षण के लिये ग्राम उमरिया पहुंची। सबसे पहले वे शासकीय स्कूल पहुंची। यहां उन्होने शैक्षणिक गतिविधियों की जानकारी ली। इस दौरान उन्होने बच्चों को गणित के सवाल हल कराये। उन्होने बच्चों की योग्यता के आंकलन के लिये उनसे प्रश्न भी पूछे। श्रीमती मीना ने शासकीय स्कूल में पंखे लगाने के निर्देश्‍ दिये। इससे पूर्व विभिन्न शासकीय विभागों के अधिकारियों ने इस गांव में ग्रामीणों से चर्चा कर आंगनवाड़ी के संचालन, राशन की दुकान से राशन का वितरण, शासकीय अस्पताल की व्यवस्था, पेयजल व्यवस्था आदि के संबंध में मैदानी हकीकत पता की।