कलमकारों और छायाकारों के जज्बे को सलाम*
September 5, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

*कलमकारों और छायाकारों के जज्बे को सलाम*

 बदलते दौर में जहां हर क्षेत्र में तब्दीलियां आ रही हैं, वहीं मीडिया एकमात्र ऐसा क्षेत्र है, जिसकी प्रासंगिकता आज भी कायम है। भले ही मीडिया को लेकर विरोधाभासी बातें होती हैं, फिर भी समाज को एक बड़ी उम्मीद मीडिया से ही रहती है। हमारे कलमकार समाज, शहर और अपराधों के खिलाफ जीवटता के साथ जुटे हुए हैं। इसका बड़ा उदाहरण पिछले दिनों नजर भी आ गया। इंदौर प्रेस क्लब के सदस्य, दैनिक भास्कर के विशेष संवाददाता दीपेश शर्मा एवं सांध्य दैनिक संझा लोकस्वामी के संवाददाता सैयद जाफर अली द्वारा दो अलग-अलग मुद्दों पर जिस दमदारी के साथ लगातार खबरें प्रकाशित की गईं, उसके कारण प्रशासन और पुलिस को सख्त एक्शन लेना पड़ा। 

*तालाबों की बचाने की मुहिम रंग लाई*
 दीपेश शर्मा ने शहर के बदहाल तालाबों पर लगातार खबरें प्रकाशित की। तालाबों की हकीकत केचमेंट एरिया में हुए अतिक्रमण और पानी की चैनलों पर कब्जे की विस्तार से प्रकाशित की गई खबरों ने प्रशासन की आंख खोल दी। तालाबों के संरक्षण और संवद्र्धन के नाम पर अब तक जो कार्यवाही का दावा पूर्ववर्ती अधिकारी करते थे, इन खबरों ने उसकी भी पोल खोल दी। हिम्मत के साथ मजबूत खबरें लिखने का परिणाम यह हुआ कि प्रशासन ने सभी तालाबों के सीमांकन का काम शुरू कर दिया। केचमेंट एरिया और चैनल पर हुए कब्जे हटाने का काम भी सख्ती के साथ चालू हो चुका है। दीपेश शर्मा और वरिष्ठ फोटो जर्नलिस्ट ओ.पी. सोनी का यह प्रयास शहर के हित में लंबे समय तक याद रखा जाएगा, क्योंकि आज चिंता संभावित जल संकट की हो रही है, ऐसे में शहर के जलस्रोत को बचाने के लिए कड़े कदम उठाना जरूरी है। 

*अपराधी के मददगार वर्दीवाले हुए बेनकाब*
 सैयद जाफर अली क्राइम रिपोर्टिंग के क्षेत्र में जाना-पहचाना नाम है। इंदौर में हुए चर्चित संदीप तेल हत्याकांड पर उनकी एक से बढ़कर एक खबर न केवल चर्चा में रही है, बल्कि उन खबरों के आधार पर पुलिस के अनुसंधान को भी नई दिशा प्राप्त हुई। इस हत्याकांड के आरोपी रोहित सेठी को देहरादून पेशी पर ले जाने वाली पुलिस टीम ने आरोपी को पांच सितारा सुविधा उपलब्ध करवाई। ग्वालियर पुलिस के इस कृत्य का सैयद जाफर अली और फोटो जर्नलिस्ट अम्बर नायक ने स्टिंग ऑपरेशन कर भ्रष्ट पुलिसकर्मियों को बेनकाब कर दिया। शासन ने इन भ्रष्ट आरआई सहित सात पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया। 
 *इंदौर प्रेस क्लब दोनों कलमकारों व छायाकारों के जज्बे को सलाम करता है।*