इंदौर शहर की सीमा तथा आसपास के लगे हुए ग्रामों में काटी जा रही कालोनियों/भूमियों के भौतिक सत्यापन हेतु दो दिवसीय अभियान आज से
September 5, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

         इंदौर शहर की सीमा तथा आसपास के लगे हुए ग्रामों में काटी जा रही कालोनियों/भूमियों के भौतिक सत्यापन हेतु दो दिवसीय अभियान आज से


इंदौर 5 सितम्बर,2019


  इंदौर शहर की सीमा तथा आसपास के लगे हुए ग्रामों में काटी जा रही कालोनियों/भूमियों के भौतिक सत्यापन हेतु दो दिवसीय अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान में संबंधित क्षेत्र के अपर कलेक्टर, अनुविभागीय अधिकारी, तहसीलदार, संबंधित राजस्व निरीक्षक तथा पटवारी रहेंगे। यह अधिकारी ऐसे क्षेत्रों का स्थल निरीक्षण करेंगे, जहां पर गोपनीय सूचना तथा अखबार में प्रकाशित खबरों/शिकायतों एवं अन्य स्रोतों से अवैध कॉलोनी/शासकीय भूमि की खरीद-फरोख्त की सूचना शिकायतें प्राप्त हुई है। यह अभियान 6 एवं 7 सितम्बर को आयोजित करने के निर्देश दिये गये है। 
 कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव ने इस संबंध में एक आदेश जारी किया है। उन्होंने निर्देश दिये है कि अभियान में अवैध रूप से काटी जा रही कॉलोनी के फोटोग्राफ्स लिये जायें। अभियान के अंतर्गत जानकारी एकत्रित की जाएगी कि उक्त कॉलोनी किस व्यक्ति/समूह द्वारा काटी गई है। यथासंभव यदि उक्त अवैध कॉलोनी में किसी व्यक्ति को प्लाट बेचा गया है/रजिस्ट्री की गई है अथवा नोटरी की गई है, उसके भी कथन लेने के निर्देश दिए गए हैं। विशेष अभियान 6 एवं 7 सितंबर को प्राथमिकता पर चलाया जाएगा। जानकारी  निर्धारित प्रपत्र में एकत्रित की जायेगी। 
  इंदौर जिले विशेषकर इंदौर नगर निगम क्षेत्र में स्थित शासकीय/नजूल भूमि न सिर्फ  बहुमूल्य है, बल्कि शहरी विकास हेतु आवश्यक अधोसंरचना इन भूमियों पर विकसित की जा सकती है। इस को ध्यान में रखते हुए यह सुनिश्चित किया जाना आवश्यक है कि उक्त भूमि अतिक्रमण एवं अन्य भूमि संबंधी विवाद से मुक्त रहें।