<no title>
December 27, 2019 • धर्मेंद्र शुक्ला

रजिस्ट्रार विभाग में हड़कंप..

क्राइम ब्रांच ने मांगी सर्विस प्रोवाइडर की सूची.

इंदौर । कमलनाथ सरकार ने हर विभाग के माफियाओं के खिलाफ कार्यवाही में जूट गई है। अब पंजीयन विभाग को निशाने पर लिया है। 
आज अचानक पुलिस विभाग की विंग क्राइम ब्रांच ने रजिस्ट्रार विभाग में धावा बोला। रजिस्ट्रार से इंदौर के सभी सर्विस प्रोवाइडर की जानकारी मांगी और उसका डेटा अपने स्तर पर निकल रही है। यह कार्यवाही पूरे प्रदेश में कई जा रही है। ध्यान रहे कि पंजीयन विभाग प्रशासन को बड़ा राजस्व देने वाला विभाग है। इस विभाग में भी जमकर भ्रष्ट्राचार होता है। भू माफियाओ को यही से गलत दस्तावेज बनाने में मदद मिलती है। बताया जा रहा है कि करीब 20 - 25  ऐसे सर्विस प्रोवाइडर है जो भू माफियाओं के फ़र्जी दस्तावेज बनाने में सहायक बने या शामिल हैं। 
आज क्राइम ब्रांच ने पंजीकृत सर्विस प्रोवाइडर की सूची ली है और बाकी जानकारी गोपनीय स्तर पर एकत्र की जा चुकी है। अब रजिस्ट्रार विभाग के माफियाओं पर सरकार क़्क़ कार्यवाही तय है।